रिश्ते..



वक्त बदले उनका मन बदले, चाहे बदले सारा जमाना..
नहीं बदलते सब यहाँ, कुछ हम जैसे भी होते हैं रिश्ते...

जोगेन्द्र सिंह Jogendra Singh ( 15 नवंबर 2010 )


.
रिश्ते..SocialTwist Tell-a-Friend

Comments

7 Responses to “रिश्ते..”

वीना said...
15 November 2010 at 11:03 PM

अच्छा है

16 November 2010 at 9:34 AM

जो बदल जाए वो रिश्ता ही क्या ... nice thought

19 November 2010 at 11:39 AM

► वीणा जी ,,, धन्यवाद...

19 November 2010 at 11:39 AM

► क्षितिज जी ,,, शुक्रिया ...

24 November 2010 at 2:38 PM

धन्यवाद जोगेन्द्र सिंह जी,
आपकी रचना स्तरीय एवं विस्तृत आयाम को समेटे हुई हैं. आपकी फोटोग्राफी की तारीफ करूँ या सृजन की ! हिंदी के प्रचार में आपके योगदान की सराहना करता हूँ. आशा है की आपका मार्गदर्शन मिलेगा.

Post a Comment

Note : अपनी प्रतिक्रिया देते समय कृपया संयमित भाषा का इस्तेमाल करे।

▬● (my business sites..)
[Su-j Health (Acupressure Health)]http://web-acu.com/
[Su-j Health (Acupressure Health)]http://acu5.weebly.com/
.

Related Posts with Thumbnails