आँसू ©




::: आँसू ::: ©

मोतियों से अश्क बहे जाते हैं जिसके लिए ,,, कोशिश है गिरने न दूँ इन्हें मगर ...
बिनबुलाए बेवजह नामुराद ये आँसू ,,, अनथक जाने कहाँ से चले ही आते हैं ...

► Jogendra Singh जोगेंद्र सिंह ‎( 26 सितम्बर 2010 )


.
आँसू ©SocialTwist Tell-a-Friend

Comments

10 Responses to “आँसू ©”

26 September 2010 at 2:47 PM

बड़ा दर्द छुपा है .....ज़रूर कोई बात होगी|

ब्रह्माण्ड

NK Pandey said...
26 September 2010 at 5:39 PM

नीला आँसू, सफ़ेद आँसू डिफ़्रेंट-२ क्वालिटी क्यों भैया जी? आँसू का रंग तो बस एक होता है...

26 September 2010 at 6:24 PM

ye kuch ehsaas hain jo beh jaate hain ....

khoobsurat rachna jogender ji ...

26 September 2010 at 10:30 PM

@ राणा ,,, बात तो छुपी है मगर बताये जाने के लिए उसे नहीं छुपाया है छोटे ... :)

26 September 2010 at 10:35 PM

@ पाण्डेय जी ,,, यह बात ओ खुद मैं भी नहीं समझ पा रहा हूँ कि ये आँसू सतरंगी कैसे हो गए हैं ...

26 September 2010 at 10:36 PM

@ क्षितिजा जी , आपका शुक्रिया ...

prakash said...
27 September 2010 at 11:03 AM

wah gajab hai chitra aim shabdo ka milan.

Neelam said...
27 September 2010 at 3:07 PM

ufff..ye kiski aankh se tapka paani,
bahaya to bahut ,lekin na sukha nayano se paani.

27 September 2010 at 3:22 PM

@ नीलू जी , क्या बात है ..... :)

27 September 2010 at 3:24 PM

@ प्रकाश जी , आभार दोस्त ... :")

Post a Comment

Note : अपनी प्रतिक्रिया देते समय कृपया संयमित भाषा का इस्तेमाल करे।

▬● (my business sites..)
[Su-j Health (Acupressure Health)]http://web-acu.com/
[Su-j Health (Acupressure Health)]http://acu5.weebly.com/
.

Related Posts with Thumbnails