सर दर्द !!


राज गयौ काज गयौ
रेलऊ देखो छूट गयी
सर पकड़ के सोच रहे
हाय दैय्या जे का भयौ

__________जोगेंद्र सिंह
( 04 मई 2010_09:45pm )
सर दर्द !!SocialTwist Tell-a-Friend

Comments

3 Responses to “सर दर्द !!”

7 May 2010 at 7:29 PM

Gud Satire! Keep it up!

8 May 2010 at 8:30 AM

तेहरवी सदी की लालटेन भैंस भई न गाय !
कहा करे इस जंत्र का जो चारा ही न खाय !
चारा ही न खाय, तो भई सर में परेशानी !
कर सकते इस्तेमाल, बना जाको कूड़े दानी !

8 May 2010 at 9:34 AM

thanx ◊▬►► Aparna ji...
thanx ◊▬►► Dayal ji... bahut sunda lines hain aapki...

Post a Comment

Note : अपनी प्रतिक्रिया देते समय कृपया संयमित भाषा का इस्तेमाल करे।

▬● (my business sites..)
[Su-j Health (Acupressure Health)]http://web-acu.com/
[Su-j Health (Acupressure Health)]http://acu5.weebly.com/
.

Related Posts with Thumbnails