मॉडर्न चुड़ैल




मॉडर्न चुड़ैल ©

चुड़ैल के घर बच्चा हुआ..
हे भगवान् यह क्या हुआ..
मादा चुड़ैल का नवागमन हुआ..
बड़े होते खेल रहे बच्चे..
खेलती उन संग मॉडर्न चुड़ैल..
भोज़न संग खिलंदड बनी..

बच्ची है
सोचा नर-मादा चुड़ैल ने..

बड़ी है आज
यह मॉडर्न चुड़ैल..
माँ ने कहा एक बार ले खाना खा ले..
डाईट प्रोग्राम पर है मॉडर्न चुड़ैल..
माँ कहती है कलंक पेड़ पर..

एक बार मिली इक आदमी से..
फैशन की मारी नयी चुड़ैल..
लगा भागने आदमी लैंयाँ-पैंयाँ..
बोलती क्या है..?
न भाग तू ऐ आदमी..
मैं आज डाईट पर हूँ..

बाप दादा कोस रहे होंगे उसको..
वंश चुड़ैल का लज़ा दिया..
क्या कलंक पैदा हुआ पेड़ पर..
भूतों ने कहा बगल के दरख़्त से..
अरी कंट्रोल रख जुबान पर..
क्या कर रही है तू..
नहीं जानती क्या खो रही है तू..
ना मानी बात, मॉडर्न जो है..

खुश आदमी अगले दिन भागा नहीं..
कहता है..
क्या आज फिर डाईट पर हो..?
क्या जाने बेचारा..
था आखिरी
यह प्रश्न उसका..
आज नहीं कोई डाईट आयोज़न..
खीं-खीं करके हँस पड़ी चुड़ैल..
नहीं मर सकती हर दिन भूखी..
माफ़ करना आज आजा..
कल होगी फिर से डाईट की बारी..
हीहीही..हाहाहा..होहोहिओ..

जोगेंद्र सिंह Jogendra Singh ( 12 जुलाई 2010_11:52 pm )
.
मॉडर्न चुड़ैलSocialTwist Tell-a-Friend

Comments

9 Responses to “मॉडर्न चुड़ैल”

Jandunia said...
13 July 2010 at 1:06 AM

शानदार पोस्ट

Udan Tashtari said...
13 July 2010 at 6:12 AM

हा हा!!


आनन्द आया.

Mradula said...
13 July 2010 at 11:15 AM

हा हा.. हे हे.. ही ही..

मज़ा आ गया.. धोखे में बेचारा आदमी मारा गया..

13 July 2010 at 6:19 PM

thank you to all..

@ Jan Duniya.. @ Udan Tashtari.. nd @ Mradula..

13 July 2010 at 8:26 PM

हा हा.. हे हे.. ही ही..हा हा
मै ये सोच रहा था कि इस ब्लाग पर पहले भी आया हूँ और आपसे कहीं मि्ला हूँ,चुड़ैल को देखकर सब भूल गया। होश गायब। फ़िर कुछ देर बाद होश आया तो याद आया कि दो दि्न पहले ही फ़ेसबुक पर आपकी फ़्रेंड रिक्वेस्ट ओके की है।

बदिया चंगा लग्गा जी सानु ऐत्थे आण के।
फ़ेर मिलांगे टैम लभ्या ते।

15 July 2010 at 3:10 PM

ललित जी..!!
इतनी भयंकर हँसी न हँसिये.. कहीं दूसरों का दम ही न निकल जाये..
मेरी पोस्ट को ब्लाग4वार्ता तक पहुँचाने का बड़ा सा शुक्रिया..
और पाजी सानु बी त्वानू ऐत्थे वेख्य के बड़ा ई चंगा लगया है जी..
हौर टाइम मिल्या ते क्यूँ.. ऐत्थे त्वाद्डा ऑलवेज़ वेलकम है जी..
जोगी..

Mired Mirage said...
15 July 2010 at 4:44 PM

बढ़िया लिखा है।
चलिए खाया भी तो कम से कम मॉडर्न चुड़ैल ने! यह एक सांत्वना तो है कि पुराने जमाने की ने नहीं खाया। हाहा हीही हो हो।
घुघूती बासूती

27 July 2010 at 1:40 AM

@ Mired Mirage ::: लो देख लो भाई.. यहाँ लोग खुद के चबाये जाने में भी ख़ुशी ढूंढते हैं.. हाहाहा..

Post a Comment

Note : अपनी प्रतिक्रिया देते समय कृपया संयमित भाषा का इस्तेमाल करे।

▬● (my business sites..)
[Su-j Health (Acupressure Health)]http://web-acu.com/
[Su-j Health (Acupressure Health)]http://acu5.weebly.com/
.

Related Posts with Thumbnails